jolly Amma सायनाइड किलर in hindi kahaniya

2904
jolly-in-hindi-kahaniya

Jolly Amma सायनाइड किलर in hindi kahaniya !

jolly Amma की ये कहानी (crime story in hindi) केरल की है ! केरल (Kerala) के Kozhikode जिले के थॉमस परिवार में साल २००2 से एक के बाद एक मौत का सिलसिला शुरू हुआ जो साल २०१६ तक चला !

jolly Joseph

५७ साल की अनम्मा थॉमस 22 अगस्त २००२ को मटन सूप पीने के बाद अचानक उल्टियाँ करने लगती हैं और थोड़ी ही देर में उनकी मौत हो जाती है !

अनम्मा थॉमस की मौत के ठीक 6 साल बाद 26 अगस्त २००८ को उनके पति टॉम थॉमस भी खाना खाने के बाद ठीक इसी तरह से दम तोड देते हैं !

टॉम थॉमस की मौत के तीन साल बाद ३० सितम्बर २०११ को उनके बेटे रॉय थॉमस उनके ही बाथरूम में बेहोश मिले बाथरूम का दरवाजा अन्दर से लॉक था थोड़ी देर पहले खाने में उन्होंने करी राइस लिए थे इसके बाद उनको उलटी होना शुरू हो गयी थी !

उनकी पत्नी जॉली अम्मा और रॉय थॉमस के मामा उनको अस्पताल लेकर गए जहाँ डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया ! उनके परिवार में पिछले नौ सालों में एक ही तरह से होने वाली  ये तीसरी मौत थी, लिहाजा मामा मेथ्यु को कुछ शक हुआ तो उन्होंने पुलिस में शिकायत की इसके बाद शव का पोस्ट-मार्टम करवाया गया ! रिपोर्ट में रॉय की बॉडी में जहर मिलने की पुष्ठी तो हुई लेकिन पुलिस को जांच में हत्या जैसा कुछ नहीं लगा और इसे आत्महत्या मान कर केस की फाइल बंद कर दी गयी !

इसके बाद २४ फरवरी २०१४ को अनम्मा थॉमस के भाई और रॉय थॉमस के मामा मेथ्यु की भी उनके घर में ही अचानक मौत हो गयी !

इसी परिवार में 3 मई २०१४ को रॉय थॉमस के चाचा के बेटे शजू की 2 साल की बेटी अल्फाइन ने पानी पिया और चल बसी !

पिछले बारह सालों में Jolly Amma के परिवार की ये पांचवी मौत थी और मौत का ये सिलसिला यहीं थमने वाला नहीं था !

11 जनवरी २०१६ को शजू स्कारिया की पत्नी सिली को भी बेटी अल्फाइन की तरह ही पानी पीने के बाद उल्टियाँ होने लगी और उसने भी दम तोड दिया सिली की मौत एक डेंटि्स्ट के क्लिनिक में पानी पीने से हुई थी !

जॉलीअम्मा ने अपना पति खो दिया था और शजू ने अपनी पत्नी तो इन दोनों ने साल २०१७ में शादी कर ली  !

ये भी पढ़ें : in hindi kahaniya बेटी ने बाप के साथ ऐसा क्यों किया ?

इसके बाद अनम्मा थॉमस और टॉम थॉमस के दुसरे बेटे रोजो जो अमेरिका में रहते है जब उसको पता चलता है कि उसकी भाभी जॉली ने चचेरे भाई शजू से शादी कर ली है तो उसे कुछ खटकता है साथ ही उन्हें ये भी पता चलता है कि उनके माता पिता की जो संपत्ति थी वो भी उनकी भाभी जॉली ने फर्जी वसीहत के जरिये अपने नाम करवा ली है यहाँ पर उनको कुछ साजिश की बू आती है तो वे भारत आकर पुलिस के एक बड़े अधिकारी के पास परिवार में हुई 6 मौतों को हत्या बताते हुए जॉली अम्मा के खिलाफ शिकायत दर्ज करवा देते है !

Jolly-Shaju

पुलिस ने जांच में पाया की जॉली हर उस जगह पर मौजूद थीं जहां लोगों की मौत हुई थी उसने संपत्ति हासिल करने के लिए कुछ दस्तावेज भी जाली बनाए थे।

आप पढ़ रहे हैं सनसनीखेज क्राइम in hindi kahaniya

इतना ही नहीं जॉली ने अपने पेशे के बारे में भी परिवार के लोगों से झूठ बोला था। उसने सभी को बताया कि वह राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान में एक शिक्षिका है, लेकिन वास्तव में वह कॉमर्स में ग्रेजुएट थी और ब्यूटी पार्लर चलाती थी। जॉली ने रॉय थॉमस की मौत के बारे में भी अपने पड़ोसियों से झूठ बोला था और उन्हें बताया कि उनके पति का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। जबकि पोस्टमार्टम में खुलासा हुआ था की उनकी मौत जहर से हुई थी !

पुलिस ने जॉली अम्मा को हिरासत में लेकर अपने तरीके से पूंछताछ की तो उसने अपने पति सहित परिवार के छह सदस्यों को साइनाइड देकर मारने की बात कबूल कर ली !

जॉली के दो सहयोगियों को भी गिरफ्तार किया गया ये लोग उसे साइनाइड सप्लाई करते थे !

जब जॉली से ये पूंछा गया की उसने ऐसा क्यूँ किया तो उसने अपनी सास अनम्मा की हत्या के पीछे कारण बताया की जब उसकी शादी के बाद वो ससुराल आई तो उसने देखा की घर में सिर्फ अनम्मा की ही चलती है ! जबकि जॉली घर पर अपना नियंत्रण चाहती थी !

ससुर टॉमथॉमस की हत्या के पीछे की वजह संपत्ति रही उसे लगता था कि उसके ससुर अपने दूसरे बेटे को ज्यादा संपत्ति दे देंगे ! पति को इसलिए मार दिया क्यूँ कि की उसे अपने पति से ज्यादा उसका चचेरा भाई शजू स्कारिया पसंद था !

रॉयथॉमस की मौत के बाद मामा मेथ्यु को शक हो गया था और जॉली डर गयी थी कि कहीं उसका गुनाह सबके सामने न आ जाये इसलिए उसने मेथ्यु की भी हत्या कर दी !

अब वो अपने पति के चचेरे भाई शजू से शादी करना चाहती थी उसे पता था की शजू अपनी पत्नी सिली और बेटी से बहुत प्यार करता है और उनके रहते हुए शजू से शादी करने का उसका सपना कभी पूरा नहीं होगा इसलिए जॉली ने उन्हें भी रास्ते से हटा दिया !

चार अक्तूबर २०१९ को सभी छह शवों को कोडेनचेरी के लूर्डेस मठ चर्च और सेंट मैरी फोरेन चर्च के कब्रिस्तान में से कब्र खोदकर निकाला गया। और वैज्ञानिक जांच के लिए भेज दिया गया!

आज की ये हिंदी क्राइम कहानी (in hindi kahaniya) आपको कैसी लगी आप कमेंट बॉक्स में अपने विचार लिख सकते हैं !

ऐसी ही और जानकारी वाली पोस्ट के लिए हमारे YouTube चैनल The Chanakya को सब्सक्राइब कर लें, और हमारे फेसबुक पेज को like करें  !