Gangster Lawrence Bishnoi Biography in Hindi । छात्र जीवन से लॉरेंस बिश्नोई कैसे बना खलनायक ।

7717
gangster-lawrence-bishnoi

आज हम बात करेंगे Gangster Lawrence Bishnoi की जो जेल में रहते हुए सोशल मीडिया पर एक्टिव रहता है  जिसकी फेसबुक पर तकरीबन 170 ID हैं अच्छे कपड़े और बॉडी बिल्डिंग का शौक रखने वाला ये गैंगस्टर जेल में रहकर भी अपने गुर्गों के संपर्क में रहता है और वहीँ बैठे बैठे whatsapp के जरिये अपराध का अपना कारोबार भी चलाता है.

Gangster Lawrence Bishnoi Biography in Hindi

ये तस्वीरें किसी मॉडल की नहीं, Gangster Lawrence Bishnoi की है और ये किसी जिम में क्लिक नही की गयी हैं बल्कि जेल में खींची गई हैं.

इन तस्वीरों में दिख रहा Gangster Lawrence Bishnoi (लॉरेंस बिश्नोई) है, जिसने दो साल पहले सलमान खान को जान से मारने की धमकी दी थी.

इसके बाद से ही टीवी, अखबार और मीडिया में उसकी चर्चा होने लगी .

२८ साल के Lawrence Bishnoi (लॉरेंस बिश्नोई) पर पंजाब, हरियाणा और राजस्थान में लूट, मर्डर, फिरौती के करीब 50 से ज्यादा मामले दर्ज हैं.

आखिर Lawrence इतनी कम उम्र में तीन राज्यों का इतना बदनाम गैंगस्टर कैसे बना ? चलिए बताते हैं-

ये भी पढ़ें : UP का सबसे बड़ा DON जिसने ली थी CM की सुपारी

कहाँ हुआ था Lawrence Bishnoi का जन्म

Lawrence का जन्म पंजाब के अबोहर में हुआ था पिता लाविंदर सिंह कांस्टेबल थे करोड़ों की जमीन भी थी उनके पास उन्होंने बेटे पर खूब पैसा खर्चा किया उसने जो माँगा वो दिया.  

स्कूल की पढ़ाई पूरी करने के बाद Lawrence Bishnoi चंडीगढ़ चला गया और वहां डीएवी कॉलेज में एडमिशन ले लिया.

वहां से लॉ की पढ़ाई करते करते कॉलेज के चुनावों में भी हिस्सा लिया.

उसने स्टूडेंट ऑर्गनाइजेशन ऑफ पंजाब यूनिवर्सिटी यानी सोपू नाम का एक संगठन भी बना लिया और  स्टूडेंट यूनियन के अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ा लेकिन वह चुनाव हार गया.   

Lawrence Bishnoi की अपराध की दुनिया में एंट्री 

इस हार के बाद फरवरी 2011 में एक दिन Lawrence Bishnoi और उसको हराने वाले विरोधी उदय के गुट  का आमना-सामना हो गया. इस दौरान Lawrence ने दूसरे गुट पर फायरिंग कर दी. ये पहली बार था, जब लॉरेंस ने फायरिंग की थी. पुलिस ने केस दर्ज किया.ये पहला मामला था, जो लॉरेंस बिश्नोई के नाम पर दर्ज हुआ था. हालांकि इससे पहले भी उसका नाम पंजाब के कई गैंगेस्टर के साथ जुड़ता रहा था.

कॉलेज की राजनीति करते करते Lawrence Bishnoi जुर्म की काली दुनिया में कदम बढ़ाता चला गया और तब से लेकर अब तक लॉरेंस पर करीब 50 मुकदमे दर्ज हो चुके हैं.

Lawrence हत्या, लूट और रंगदारी वसूलने जैसे अपराध करता रहा, जेल जाता रहा और जमानत पर रिहा होता रहा. बहुत ही कम समय में लॉरेंस बिश्नोई ने लोगों की सुपारी लेकर काफी पैसा बनाया.ऐसा कहा जाता है कि वर्तमान में लॉरेंस के पास करोड़ों रुपये हैं.

17 जनवरी 2015 को जब पंजाब पुलिस उसे कोर्ट में पेशी के लिए लेकर जा रही थी, तो वो पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया था.

हालाँकि बाद में 4 मार्च 2015 को वो फाजिल्का पुलिस के हत्थे चढ़ गया.

इसके बाद फरीदकोट जेल में बंद रहने के दौरान वो फोन का इस्तेमाल करने लगा.

फ़ोन के जरिए ही वो पंजाब, हरियाणा और राजस्थान में अवैध वसूली, रंदगारी और लोगों को जान से मारने की धमकी देने के साथ ही हत्या की सुपारी भी लेने लगा. बाद में उसे जोधपुर जेल भेजा गया जोधपुर में आने के बाद भी लॉरेंस बिश्नोई ने मोबाइल के जरिए वसूली और धमकी  का खेल जारी रखा. परेशान जोधपुर प्रशासन ने उसे अजमेर की घूघरा घाटी हाई सिक्योरिटी जेल में भेज दिया.

 

इसी जेल में राजस्थान के कुख्यात आनंदपाल के गैंग के भी शूटर थे. यहाँ  आने पर Lawrence की मुलाकात आनंदपाल के भाई से हुई. लॉरेंस बिश्नोई ने जेल से ही फोन करके अपने शूटर रविंदर काली को भेजकर आनंदपाल के सियासी विरोधी रहे सीकर के पूर्व सरपंच सरदार राव की 27 अगस्त 2017 को हत्या करवा दी.

Lawrence Bishnoi ने जब दी Salman Khan को मारने की धमकी

5 जनवरी २०१८ को राजस्थान के जोधपुर में लॉरेंस पेशी पर पहुंचा था. तब उसने सलमान खान को जान से मारने की धमकी दी थी.

उसने सिर्फ धमकी ही नहीं दी थी बल्कि अपने गिरोह के सदस्य, हरियाणा के कुख्यात संपत नेहरा को सलमान खान को मारने के लिए भी भेजा था। हालांकि, सुरक्षा अधिक होने के कारण संपत नेहरा सलमान को मारने में कामयाब नहीं हो सका था.

लारेंस, बिश्नोई समाज से है। बिश्नोई समाज काले हिरण की पूजा करता है। सलमान खान के काले हिरण शिकार मामले के बाद से ही पूरा बिश्नोई समाज सलमान खान के खिलाफ है.

सलमान खान को धमकी देकर लॉरेंस, बिश्नोई समाज का नेता बनने की मंशा रखता था. सलमान को धमकी देने के बाद से लॉरेन्स को बिश्नोई समाज का काफी समर्थन भी मिला.

Lawrence Bishnoi ने Facebook पर ली Sonu Shah की हत्या की जिम्मेदारी

28 सितंबर २०१९ को चंडीगढ़ में प्रॉपर्टी डीलर सोनू शाह की दिनदहाड़े गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गयी थी पांच बदमाशों ने सोनू शाह पर 14 गोलियां बरसाईं थीं वारदात के करीब एक घंटे बाद जेल में बंद होने के बावजूद Gangster Lawrence Bishnoi ने फेसबुक पर सोनू शाह की हत्या की जिम्मेदारी ली थी.

लॉरेंस के रंगदारी के धंधे में सोनू शाह रोड़ा बन रहा था अपराध जगत में दबदबा बढ़ाने के लिए उसने सोनू शाह की हत्या करवाई थी.

लॉरेंस के कहने पर गैंगस्टर राजू बिसौदी ने सोनू शाह की हत्या के लिए शूटरों का इंतजाम करवाया और हथियार मुहैया करवाकर उसकी हत्या करवा दी.

 

Gangster Lawrence Bishnoi की 150 से ज्यादा  फेसबुक आईडी हैं, इनमें से 20 आईडी को लगातार अपडेट किया जा रहा है जिनके जरिए साजिशें रची जा रही हैं. पुलिस की जांच में सामने आया है कि लारेंस की इन आईडी को हरियाणा के अलावा यूपी और राजस्थान से ओपरेट किया जा रहा है.

 

लॉरेन्स के सोशल मीडिया अकाउंट पर जो पोस्ट नजर आती है उसमें वो अपने आप को रॉबिनहुड जैसा दिखाने की कोशिश करता है.

ऐसी ही और जानकारी वाली पोस्ट के लिए हमारे YouTube चैनल The Chanakya को सब्सक्राइब कर लें, और हमारे फेसबुक पेज को like करें.