एक साल से लापता ४ साल की रुचिका भारद्वाज किस हालत में मिली ?

1619
ruchika-bhardwaj

छत्तीसगढ़ के जशपुर से पिछले साल २३ जून को ४ साल की बच्ची रुचिका भारद्वाज (Ruchika Bhardwaj) अचानक रहस्यमय ढंग से गायब हो गयी थी और अब पूरे एक साल बाद इस घटना को अंजाम देने के आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है.

जशपुर जिले के पत्थलगांव में २४ जून २०२० के दिन श्यामसुंदर भरद्वाज की चार साल की बेटी रुचिका भारद्वाज (Ruchika Bhardwaj) चोकलेट लेने के लिए निकली थी लेकिन बापस नहीं आयी. माता पिता ने आस पडौस में सब जगह तलाश की लेकिन वो कहीं नहीं मिली थक हारकर उन्होंने पुलिस को खबर दी.

पुलिस ने कई लोगों से पूंछताछ की लेकिन रुचिका की कोई जानकारी हाथ नहीं लगी.  

पूरे एक साल तक उसके माता पिता पुलिस से लेकर मुख्यमंत्री तक बेटी को ढूँढने के लिए फ़रियाद करते रहे लेकिन उन्हें अपनी बेटी की कहीं कोई खबर नहीं मिली.

रुचिका की तलाश पुलिस बड़ी ही गंभीरता से कर रही थी इस बीच पुलिस के बड़े अधिकारी भी उसके माता पिता से मिले लेकिन वे सिबाय ढांढस के और कुछ नहीं दे पाए. लाख कोशिशों के बावजूद रुचिका का कहीं पता नहीं चल पा रहा था.

रुचिका के गायब होने के तकरीबन एक साल बाद १९ जून २०२१ को पास के ही गाँव पतरापाली के तालाब की झाडी में एक बच्ची का कंकाल मिला और जब पुलिस ने जांच शुरू की तो पता चला कि बोरे में मिला कंकाल रुचिका भारद्वाज (Ruchika Bhardwaj) का है. रुचिका के माता पिता ने कपड़ों के आधार पर कंकाल को अपनी बेटी रुचिका का बताया जो साल भर पहले लापता हो गयी थी.

कंकाल मिलने के बाद पुलिस ने एक बार फिर नए सिरे से जांच शुरू की और बच्ची के हत्यारों को ढूंढना शुरू किया. इसी कड़ी में संदेह के आधार पर अमित कुर्रे नाम के एक युवक को हिरासत में लेकर पुलिस ने जब सख्ती से पूछताछ की तो उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया. अमित रुचिका के पडौस में ही एक दूकान चलाता है. 

ये भी पढ़ें Gangster Neeraj Bawana Biography in Hindi । नीरज बवाना कैसे बना दिल्ली का DON ?

उसने बताया कि पिछले साल २४ जून को रुचिका उसकी दूकान पर चोकलेट लेने आई थी तभी अमित कुर्रे ने उसे जोर दे धक्का दे दिया. बच्ची के सिर पर चोट लगी और वो बेहोश हो गयी, फिर उसने रुचिका को एक बोरे में डाल कर ढाई किलोमीटर दूर पतरापाली ले जाकर तालाब की झाड़ी में फेंक दिया.  

आरोपी का कहना है कि रुचिका के पिता श्यामसुंदर भरद्वाज से पुरानी रंजिश के चलते उसने मासूम रुचिका की जान ले ली थी.

इस कहानी के बारे में अपनी राय कमेंट करके जरूर बताइयेगा और ऐसी ही अपराध की सच्ची कहानियों के लिए हमारे YouTube चैनल The Chanakya को सब्सक्राइब कर लीजिये और हमारे फेसबुक पेज को like करें  !