कौन थी हर्षिता दहिया और उसकी हत्या से जीतेन्द्र मान उर्फ़ गोगी का कनेक्शन क्या था ?

4597

दिल्ली का सबसे बड़ा डॉन जीतेन्द्र मान उर्फ़ गोगी 3 मार्च को अपने तीन साथियों के साथ पुलिस के हत्थे चढ़ गया !

दिल्ली पुलिस ने उस पर 4 लाख रुपये का इनाम रखा था और हरियाणा पुलिस ने 2 लाख रुपये का ! यह दो लाख रुपये का इनाम हर्षिता दहिया हत्याकांड में रखा गया था।  

कौन थी हर्षिता दहिया और उसकी हत्या से जीतेन्द्र मान उर्फ़ गोगी का कनेक्शन क्या था ? बताएँगे आपको पूरी कहानी !

हर्षिता के पिता  राजकुमार की बहुत पहले हर्टअटैक से मौत हो गई थी। तीन बहनों में सबसे छोटी हर्षिता हरियाणा की नामी सिंगर और डांसर थी  उसकी मां प्रेमो देवी का 2014 में मर्डर हो गया था।
हर्षिता की दो बहनें शादीशुदा है। मझली बहन लता अपने पति दिनेश से अलग रहती है।

हर्षिता अपनी माँ के साथ

साल 2017 में हरियाणा की इस नामी सिंगर और डांसर हर्षिता दहिया की सुपारी देकर हत्या करवा दी गयी थी !

17अक्टूबर, 2017 धनतेरस के दिन हर्षिता अपनी कार से सोनीपत की तरफ जा रही थी। पानीपत के पास इसराना में एक काले रंग की कार  ने उन्हें ओवरटेक किया और हर्षिता की कार को जबरन रुकवा लिया। कार रुकने के बाद आगे चल रही कार में सवार एक तिलक लगाए युवक बाहर निकला उसने हर्षिता की कार में सवार लोगों को रिवॉल्वर दिखाई और हर्षिता को छोड़कर कार से नीचे उतर जाने को कहा । जान खतरे में देख हर्षिता के सभी साथी कार से नीचे उतरकर सड़क किनारे खेतों में भाग निकले। इसके बाद कार में बैठी हर्षिता को गोलियों से छलनी कर दिया गया था

हर्षिता के शव का पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर राजीव मान ने कहा कि उसके शरीर पर 7-8 गोलियों के घाव थे।

जिनमे से 3 गोलिया ही उसके शव से मिली बाकी की गोलिया शरीर को भेदते हुए पार निकल गयी थी 

पहले हर्षिता की हत्या के पीछे एक विवादित रागिनी अपलोड करने का कनेक्शन सामने आ रहा था। हर्षिता ने विवादित वीडियो सोशल मीडिया पर अपलोड किया था। जिसके बाद उन्हें जान से मारने की धमकी मिल रही थी। 

लेकिन अगले ही दिन हर्षिता दहिया की बहन लता ने अपने पति दिनेश  पर सनसनीखेज आरोप लगाते हुए कहा कि हर्षिता की हत्या उसके पति दिनेश ने तिहाड़ जेल में बैठकर करवाई है । लता का पति और हर्षिता का जीजा दिनेश जेल में क्यूँ था ?

हर्षिता की बहन लता

दरअसल दिनेश पर हर्षिता के साथ रेप का आरोप था । साल २०१४ में दिल्ली के कंझावला थाने में हर्षिता की मां प्रेमो देवी ने दिनेश के खिलाफ इसकी शिकायत दर्ज करवाई थी । दिनेश ने अपनी सास प्रेमो देवी को इस केस में गवाही ना देने की धमकी दी थी।

जब वो नहीं मानी तो उसने 17 दिसंबर 2014 को उनके घर पर ही गोली मारकर प्रेमो देवी की हत्या कर दी थी । दिनेश हर्षिता से रेप और उसकी मां की हत्याके आरोप में तिहाड़ जेल में बंद था  

पुलिस जांच में भी खुलासा हुआ था कि हर्षिता दहिया की हत्या की साजिश जेल में रची गई थी। ये साजिश  उसके जीजा दिनेश ने ही रची थी।

क्यों की हर्षिता अपनी मां की हत्या की मुख्य गवाह थी। दिल्ली कोर्ट में इस मामले में जल्द ट्रायल शुरू होना था। हर्षिता गवाही ना दे सके इसलिए दिनेश ने ही हर्षिता की हत्या की सुपारी दी थी।

जितेंद्र मान  उर्फ गोगी और उसके गुर्गो ने ही लाखों रुपये लेकर इस हत्याकांड को अंजाम दिया था । इसका खुलासा हर्षिता के जीजा दिनेश ने किया था।

इसके अलावा गोगी गैंग के लोगों ने ही दिल्ली के नरेला में आम आदमी पार्टी के नेता वीरेंद्र मान को 26 गोलियां मारी थीं।

वीरेंद्र मान

2018 में दिल्ली के बुराड़ी में 3 लोगों की हत्या हुई और 5 लोग घायल हुए थे। इस हत्याकांड में भी गोगी गैंग का नाम सामने आया था

इसके बाद से पुलिस को उसकी लंबे समय से तलाश थी।

2 मार्च की रात अचानक स्पेशल सेल के इंस्पेक्टर विक्रम दहिया को किसी मुखबिर का फोन आया कि गोगी अपने गैंग के शार्पशूटरों के साथ सेक्टर- 82, गुरुग्राम की एक पॉश सोसाइटी में रह रहा है। 

गोगी की लोकेशन की खबर मिलना स्पेशल सेल के लिए किसी बड़ी कामयाबी से कम नहीं था . इस ऑपरेशन को अंजाम देने के लिए स्पेशल सेल की स्वाट कमांडो टीम को साथ लिया गया । 3 मार्च मंगलवार तड़के तीन बजे घेराबंदी के बाद मोस्ट वॉन्टेड गैंगस्टर जितेंद्र गोगी आखिरकार स्पेशल सेल के शिकंजे में फंस गया।

गोगी के साथ ही कुख्यात गैंगस्टर कुलदीप मान, रोहित मोई और कपिल उर्फ गौरव को भी  गिरफ्तार कर लिया गया ।

ऐसी ही और जानकारी वाली पोस्ट के लिए हमारे YouTube चैनल The Chanakya को सब्सक्राइब कर लें, और हमारे फेसबुक पेज को like करें  !