उत्तर प्रदेश, देवरिया : जींस पहनने पर ले ली युवती की जान

1444
उत्तर-प्रदेश-देवरिया
  • उत्तर प्रदेश के देवरिया में गंडक नदी पर बने पटनवा पुल की ग्रिल पर एक लडकी की लाश लटकी हुई थी.
  • लडकी का एक पैर लोहे के गर्डर्स के बीच फसा हुआ था और सिर नीचे की तरफ लटका था.
  • लडकी गहरे नीले रंग की जींस और गुलाबी रंग का टॉप पहने हुई थी.  
  • राह चलते लोगों ने जब इस तरह से लटके हुए लडकी की लाश को देखा तो उन्होंने पुलिस को खबर कर दी.

ये घटना है उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले की. यहाँ एक गाँव है, संवरेजी खर्ग जो महुआडीह थाना क्षेत्र में पड़ता है. लडकी का नाम है नेहा पासवान.

17 साल की नेहा पासवान की जान सिर्फ इसलिए ले ली गयी, क्यों कि वो जींस और टी शर्ट पहनना नहीं छोड़ रही थी.

नेहा पासवान देवरिया के संवरेजी खर्ग गाँव में ही पली बड़ी थी, कुछ समय पहले उसके पिता काम के लिए लुधियाना चले गए थे, जिसके बाद उनका परिवार भी वहीँ शिफ्ट हो गया.

लुधियाना पहुँचने के बाद नेहा ने वहां जींस और टॉप पहनना शुरू कर दिया.

ये भी पढ़ें Crime Khabar Weekly | क्राइम ख़बर साप्ताहिक | अपराध की 4 बड़ी ख़बरें

अभी कुछ दिनों पहले ही वो अपनी माँ के साथ बापस गाँव लौटी थी यहाँ आकर भी वो जींस और टॉप पहन रही थी.

उसके चाचा और दादा चाहते थे कि नेहा सलवार कुर्ता पहने और दुपट्टा डाले लेकिन वो इसके लिए तैयार नहीं हुई.

ये बात उसके चाचा अरविन्द पासवान और दादा परमहंस पासवान को बिलकुल भी अच्छी नहीं लगी. जिसकी वजह से वो उससे नाराज थे.

जींस पहनने पर ले ली युवती की जान

19 जुलाई सोमवार को नेहा ने व्रत रखा था. उसे पूजा भी करनी थी, वो नहाई और उसने जींस टॉप पहन लिया. इस पर उसके दादा परमहंस ने ऐतराज किया, उन्होंने नेहा से कहा कि वो सलवार सूट पहन ले, लेकिन नेहा ने ऐसा करने से साफ़ मना कर दिया.

नेहा को अपने दादा से लड़ाई करता देख उसके चाचा अरविन्द को इतना गुस्सा आया कि उसने नेहा को पीटना शुरू कर दिया. हाथ, डंडे और दीवार से सर पटक पटक कर नेहा को बेरहमी से पीटा गया था. पीटते पीटते जब उसे ये अहसास हुआ कि नेहा की हालत गंभीर हो गयी है, तो वो और दादा परमहंस उसे अस्पताल लेकर भागे लेकिन रास्ते में ही उसकी मौत हो गयी. 

अब उन्हें ये समझ नहीं आ रहा था कि लाश का क्या किया जाए. नेहा के चाचा और दादा को रास्ते में गंडक नदी दिखी तो इन लोगों ने लाश को नदी में बहाने का सोचा. पटनवा पुल पर पहुँच कर इन लोगों ने नेहा की लाश को नीचे गंडक नदी में फेंक दिया, लेकिन उसका एक पैर पुल की ग्रिल में फंस गया और उसकी लाश वहीँ लटक कर झूलने लगी.

ये देखकर उसके चाचा और दादा वहां से भाग खड़े हुए.

राह चलते लोगों ने जब इस तरह लाश को लटके देखा तो उन्होंने पुलिस को खबर दी. पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है और इस मामले में जांच कर रही है.

इस ख़बर के बारे में अपनी राय कमेंट करके जरूर बताइयेगा और ऐसी ही अपराध की सच्ची कहानियों के लिए हमारे YouTube चैनल The Chan